मुख्यमंत्री सशक्त किसान योजना और मुख्यमंत्री कृषि समूह योजना

Share this Post on...
Share on Facebook
Facebook
Share on Google+
Google+
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on LinkedIn
Linkedin

मुख्यमंत्री सशक्त किसान योजना और मुख्यमंत्री कृषि समूह योजना-अरुणाचल प्रदेश सरकार ने राज्य के किसानों के लिए दो नई सरकारी योजनाओ को शुरू करने का आधिकारिक एलान किया हैं । राज्य सरकार दवारा शुरू की इन दोनों सरकारी योजनाओ का नाम मुख्यमंत्री सशक्त किसान योजना और मुख्यमंत्री कृषि समूह योजना है।

Mukhyamantri Sashakt Kisan Yojana

राज्य के सभी किसानो के कल्याण के लिए इन योजनाओ को शुरू किया गया है। इससे किसानो द्वारा खेती में भी बहुत मदद मिलेगी। इतना ही नहीं इस योजना के अंतर्गत सभी किसानो को कृषि करने हेतु वित्तीय दी जाएगी। किसानों को बेहतर कीमत सुनिश्चित करने के लिए एपी सरकार बाजार हस्तक्षेप दृष्टिकोण का भी पालन कर सकती है।

इन योजनाओ के अंतर्गत, तीन कार्यक्रमों पर काम किया जाएगा जैसे की –

  • सीएम की रोजगार जनरेशन योजना
  • सीएम के कृषि-मशीनीकरण कार्यक्रम
  • चाय और रबड़ पर मुख्यमंत्री का प्रमुख कार्यक्रम
  • इस योजना के तहत, राज्य सरकार किसानों को समय पर सहायता प्रदान करेगी और बाजार हस्तक्षेप योजना के माध्यम से फसलों की बेहतर कीमत सुनिश्चित करेगी।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की वार्षिक आय बढ़ाने के लिए है। इस योजना को शुरू किया गया है।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को बेहतर मूल्य प्राप्ति और किसानों की आमदनी को दोगुना करने के लिए समय पर समर्थन और मार्केटिंग हस्तक्षेप प्रदान करके सहकारी दृष्टिकोण के माध्यम से किसानों को सशक्त बनाना है।

अरुणाचल प्रदेश सरकार हर वर्ष 4.5 हजार मीट्रिक टन मछली पैदा करता है। राज्य में मछली की आवश्यकता लगभग 15000 मीट्रिक टन है। राज्य के लोगों को किसानों द्वारा शोषित होने वाले मछली उत्पादों के लिए एक तैयार बाजार मिला है।

ऐसी ही और अधिक जानकारी जानने हेतु आप हमसे निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते है!

Share this Post on...
Share on Facebook
Facebook
Share on Google+
Google+
Tweet about this on Twitter
Twitter
Share on LinkedIn
Linkedin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *